फोन टैपिंग कांड को लेकर कांग्रेस का राजभवन मार्च, पुलिस ने नेताओं को रोका
बिहार राज्यों की खबरें

फोन टैपिंग कांड को लेकर कांग्रेस का राजभवन मार्च, पुलिस ने नेताओं को रोका

सेंट्रल डेस्क: राजधानी पटना से इस वक्त की ताजा खबर सामने आ रही है. फोन टैपिंग कांड को लेकर निकाले गए कांग्रेस के राजभवन मार्च को पुलिस ने रोक दिया है. कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर मदन मोहन झा के नेतृत्व में पार्टी के नेता आज राजभवन के लिए निकले थे. राजभवन पहुंचकर इन्हें राज्यपाल फागू चौहान को एक ज्ञापन सौंपना था. यह ज्ञापन राष्ट्रपति को दिया जाना था. लेकिन राजभवन पहुंचने से पहले ही पुलिस ने कांग्रेस नेताओं को रोक लिया है.

कांग्रेस के राजभवन मार्च को उस वक्त रोका गया जब वह बेली रोड से राजभवन के लिए मुड़े थे. राजेंद्र गोलंबर के पहले कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने रोक लिया. इस दौरान कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस की हल्की धक्का-मुक्की भी हुई. हालांकि पुलिस से बातचीत के बाद कांग्रेस के 6 नेताओं का प्रतिनिधिमंडल राजभवन राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने पहुंचा है.

आपको बता दें की कांग्रेस ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर इजरायली जासूसी सॉफ्टवेयर पेगासस के जरिये देश के 121 प्रमुख लोगों का फोन टैपिंग और जासूसी कराने का आरोप लगाया है. बिहार कांग्रेस अध्यक्ष का कहना है कि प्रधानमंत्री तानाशाह की तरह अपने फायदे के लिए विपक्ष और प्रमुख लोगों को निशाने पर लेकर उनके संवैधानिक अधिकार का हनन कर रहे हैं.