मुकेश सहनी को बीजेपी के इन नेताओं ने दिया करारा जवाब, कहा- उनकी नहीं सुनी जाती, तो हारने के बाद भी मंत्री कैसे बन गए?
बिहार राज्यों की खबरें

मुकेश सहनी को बीजेपी के इन नेताओं ने दिया करारा जवाब, कहा- उनकी नहीं सुनी जाती, तो हारने के बाद भी मंत्री कैसे बन गए?

सेंट्रल डेस्क:  यूपी में स्वर्गीय फूलन देवी की शहादत दिवस नहीं मना पाए मंत्री मुकेश सहनी आज बिहार विधानसभा में एनडीए से अलग-थलग दिखे. एनडीए विधानमंडल दल की बैठक में भी वो शामिल नहीं हुए. उल्टा मीडिया में आकर उन्होंने यहां तक कह दिया कि अब मांझी जी और मैं एनडीए में रहने या नहीं रहने को लेकर बड़ा फैसला ले सकते हैं.

मंत्री मुकेश सहनी का यह कहना कि एनडीए में उनकी नहीं सुनी जाती, इस बयान पर बीजेपी नेता व मंत्री रामप्रित पासवान और बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर ने करारा पलटवार किया है. मंत्री रामप्रित पासवान ने कहा कि मुकेश सहनी की बात सुनी जाती है. लेकिन यह जरूरी नहीं की हरबात उनकी सुनी जाए. वो बिहार सरकार के मंत्री है. उन्हें यह नहीं भूलना चाहिए.

वहीं बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर ने मुकेश सहनी पर चुटीले अंदाज में कटाक्ष किया. जब मीडिया वालों ने नाराज सहनी को लेकर प्रश्न किया तो उन्होंने कहा कि वहीं मुकेश सहनी जो विधानसभा चुनाव हार गए थे. अगर उनकी नहीं सुनी जाती तो हारने के बाद भी मंत्री नहीं बनाया जाता.

बता दें कि दिनभर के राजनीतिक घटनाक्रम के बाद मुकेश सहनी ने पीसी कर पूरे मामले पर अपनी स्थिति स्पष्ट की. उन्होंने कहा कि विपक्ष क्या चाहता है, मैं जानता हूं. मैं वो नहीं जो अपनी ही सरकार को गिरा दूं. अपने पैर पर कुल्हाड़ी मार दूं. अगर मैं सरकार को गिराता हूं तो अभी लाखों करोड़ों रूपया बिहार की जनता का बर्बाद हो जाएगी. मुझे जनता ने चुनकर यहां भेजा है. लाखों लोगों की आशा आकांक्षा जुड़ी हुई है. जिसे पूरा करना हम सबों की जिम्मेवारी है.